सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

चेहरे के पिम्पल्स को हटाने के घरेलू उपाय- how to remove pimples on face मुहासों को जड़ से खत्म कर देंगे यह उपाय

दोस्तों हमारा चेहरा हमारे शरीर के लिए एक आईने की तरह काम करता है इसलिए जब भी हमारे शरीर के अंदर कोई भी गड़बड़ी होती है तो हमारे चेहरे पर दाग धब्बे कालापन पिंपल्स आदि दिखाई देते हैं और लाख कोशिश करने के बाद भी यह खत्म होकर वापस आ जाते हैं। यह सब हमें संकेत देते हैं कि समस्या बाहर ही नहीं शरीर के अंदर भी है इसलिए जरूरी है यदि आप पिंपल से छुटकारा पाना चाहते हैं तो आपको पिंपल्स की समस्या को चेहरे पर ही कुछ लगाकर पूरी तरह से ठीक नहीं किया जा सकता बल्कि आपको अपने खान पान और कुछ गलत तरीकों को भी कंट्रोल करना पड़ेगा। तो आइए जानते हैं पिंपल्स होने के कारण और इनसे बचने के घरेलू उपायों केे बारे में-

पिंपल्स होने के कारण:- 

चेहरे पर किसी भी हिस्से में पिंपल्स होने का सिर्फ एक कारण होता है वह है हमारे चेहरे पर मौजूद छोटे-छोटे छिद्र का बंद हो जाना। रोमछिद्र के बंद होने से हमारे स्किन के अंदर से निकलने वाले नेचुरल ऑयल बाहर नहीं निकल पाते हैं और वही पिंपल्स बन जाते हैं। इसलिए यहां समझने वाली बात यह है कि चाहे पिंपल्स होने का एक ही कारण हो लेकिन रोम छिद्र के बंद होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे- चेहरे का बहुत ज्यादा ऑयली होना या ड्राई होना, चेहरे की सफाई ठीक तरह से न होना, पाचन में हमेशा गड़बड़ी रहना या ठीक से पेट न साफ होना, चेहरे और बालों पर खराब तरीके के केमिकल वाले प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना। लेकिन कई बार देखा गया है कि चेहरे पर बार-बार एक ही जगह पर पिंपल्स होते रहते हैं जैसे किसी के माथे पर,किसी के गालों पर, नाक या फिर किसी को दाढ़ी वाले हिस्से में पिंपल्स की प्रॉब्लम होती है।
हम फेस मैपिंग के जरिए यह पता लगा सकते हैं की चेहरे के कौन से हिस्से में किस वजह से पिंपल की समस्या हो रही है तो आइए जानते हैं इसके बारे में-

फोरहेड (पेशानी पर पिंपल्स):-

हमारे पेशानी का ऊपरी हिस्सा हमारे पाचन तंत्र और मूत्राशय से से जुड़ा होता है। इस वजह से माथे के ऊपरी हिस्से में होने वाला पिंपल पाचन में खराबी और शरीर में पानी की कमी को दर्शाता है। इसके लिए जरूरी है कि जो चीजें जिन्हें पचाने में बहुत कठिनाई होती है जैसे ज्यादा तेल मसाला और मैदे से बनी चीजों को खाने से परहेज करें। इसमें ताजे फल और सब्जियों का अधिक प्रयोग करना चाहिए। साथ ही दिन भर में 3 से 3.5 लीटर पानी जरूर पीना चाहिए। इसका एक दूसरा कारण सिर में होने वाले डैंड्रफ या बालों में इस्तेमाल किए जाने वाले शैंपू, ऑयल,जेल,वैक्स और हेयर स्प्रे जैसे प्रोडक्ट्स हो सकते क्योंकि डैंड्रफ में पाए जाने वाले बैक्टीरिया और हेयर प्रोडक्ट में मौजूद केमिकल का कुछ हिस्सा पेशानी के हिस्से पर आ जाते हैं जो रोम छिद्र को बंद कर देते हैं इसकी वजह से पिंपल हो जाते हैं। इसके लिए जरूरी होता है की केमिकल फ्री प्रोडक्ट का इस्तेमाल किया जाए। साथ ही सिर को शैंपू से धोते समय सिर को पीछे की तरफ झुकाकर धोएं जिससे शैंपू पेशानी की तरफ न आ पाए। ऐसा करने से शैंपू में मौजूद केमिकल से काफी हद तक बचा जा सकता है।

पेशानी के निचले हिस्से मे पिंपल्स:-

यह हिस्सा हमारे दिमाग, पाचन और वैस्कुलर सिस्टम से जुड़ा होता है। इसलिए पेशानी के निचले हिस्से में होने वाला पिंपल स्ट्रेस, डिप्रेशन और नींद की कमी के कारण होता है। इसलिए रात को जल्दी सोएं और 6 से 8 घंटे की नींद जरूर से जरूर लें व थोड़ी एक्सरसाइज और मेडिटेशन भी करें।

दोनों भौहों के बीच मे पिंपल्स:-

यह हिस्सा हमारे लीवर से जुड़ा होता है।इसलिए दोनों भौहों के बीच मे होने वाला पिंपल लीवर मे आई गड़बड़ी के कारण होता है। बहुत ज्यादा फैटी फूड, नॉनवेज और तली हुई चीजों के बहुत अधिक सेवन से लीवर को बहुत मेहनत करनी पड़ती है इसलिए ऐसी चीजों को हटाकर सादे खाने की तरफ ध्यान दें जिससे हमारे लिवर को अपनी सफाई का मौका मिले।

नाक पर पिंपल्स:-

यह हिस्सा हमारे दिल की सेहत को प्रदर्शित करता है। नाक पर होने वाला पिंपल हाईब्लड प्रेशर, स्ट्रेस और खून में हुई अशुद्धियों के कारण होता है। ऐसे में धूम्रपान, शराब, तेल -मसाला, बहुत अधिक नमक और चीनी से बनी चीजों को ना खाएं और रोज कम से कम 3.5 लीटर पानी जरूर पिएं व ताजे फल और सब्जियां अधिक प्रयोग में लाएं। कई बार नाक पर पिंपल रात को बिना चेहरा धोए सो जाने के कारण होता है क्योंकि इस हिस्से पर सबसे ज्यादा ऑयल निकलता है और इस पर धूल मिट्टी भी बहुत जल्दी जम जाती है। इसलिए रात को सोने से पहले अपना चेहरा जरूर धोएँ।

गालों पर पिंपल्स:-

यह हिस्सा हमारे फेफड़ों और लीवर से जुड़ा होता है। इसलिए गालों पर होने वाला पिंपल फेफड़े लीवर और पाचन में आई गड़बड़ी के कारण होता है। इसके लिए हमें तंबाकू, धूम्रपान, शराब को पूरी तरह बंद कर देना चाहिए।इसके साथ साथ फैटी फूड कम खाएं और फेफड़े की सेहत के लिए जितना हो सके प्रदूषण से बचना चाहिए।

कान पर पिंपल्स:-

यह हिस्सा हमारे किडनी से जुड़ा होता है। कानों पर निकलने वाला पिंपल किडनी में आई गड़बड़ी और खून में आई गंदगी के कारण होता है।इसके लिए शराब, जंक फ़ूड और पैकेट में मिलने वाले फूड को न खाएं और पानी को खूब पीना चाहिए।

दाढ़ी पर पिंपल्स:-

यह हिस्सा हमारी छोटी आँत से जुड़ा होता है। दाढ़ी पर होने वाला पिंपल अपचन कब्ज और हार्मोन में आए असंतुलन के कारण होता है। इसलिए कब्ज पैदा करने वाली चीजें नहीं खानी चाहिए और इसके लिए हाई फाइबर वाली चीजों का भोजन में प्रयोग करना चाहिए जैसे- ब्राउन राइस, मटर, गाजर और सेब जैसी चीजें।

पिंपल्स को जड़ से खत्म कर देंगे ये उपाय:-

पिंपल्स को दूर करें दालचीनी से:-

इसके लिए आपको दालचीनी लेना है और इसका पाउडर बना लेना है। इस पाउडर को पानी में मिलाकर पेस्ट बना लेना है।  अब इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं। ऐसा दिन में कम से कम 2 बार करने से पिंपल्स दूर हो जाएंगे।


पिंपल्स हटाने के लिए करें संतरे का इस्तेमाल:-

संतरे के छिलके को निकालकर छांव में सुखा लें और इसे पीसकर पाउडर बना लें। अब इस पाउडर को एक से दो चम्मच पानी में मिलाकर पेस्ट बनाएं और अब इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं। इसे लगाने के आधे घंटे बाद चेहरा पानी से धो लें। ऐसा दिन में दो-तीन बार करने पर पिंपल अपने आप खत्म हो जाते हैं।
संतरे के छिलके से करें पिंपल्स को जड़ से खत्म
संतरा

शहद से करें पिंपल्स को खत्म:-

इस नुस्खे के लिए आपको कॉटन बॉल को लेकर शहद में डुबोना है। इसे चेहरे पर धीरे धीरे लगाएं, सूखने के बाद चेहरे को पानी से धो दें। इस तरह पिंपल्स धीरे-धीरे खत्म हो जाते हैं।
मुंहासे को ठीक करने का घरेलू उपाय शहद
शहद

पिंपल्स को सही करें पपीते से:-

इसके लिए एक पपीते को छीलकर मिक्सर में पीस लें और चेहरे पर लगाएं। पपीते का जूस भी चेहरे पर लगाया जा सकता है। लगाने के 15 से 20 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरे को धो लें। इससे पिंपल्स में काफी हद तक आराम मिलता है।

पिंपल्स के घरेलू नुस्खे में करें टमाटर का इस्तेमाल:-

इसके लिए टमाटर को लेकर उसे पीस लेना है और उसके जूस को छानकर चेहरे पर लगा लेना है तथा सूखने के बाद चेहरा धो लें। ऐसा दिन भर में कम से कम दो बार करने से पिंपल्स पर इसका असर दिखाई देने लगता है।

चेहरे पर भाप लेने से खत्म हो सकते हैं पिंपल:-

जब भी पिंपल्स की समस्या हो तो चार-पांच दिनों तक दिन में दो से तीन बार चेहरे पर भाप लें। इससे पिंपल्स जल्दी खत्म हो जाते हैं और चेहरा भी चमकने लगता है।

पिंपल्स को हटाने के देसी नुस्खे में करें पुदीने का इस्तेमाल:–

इसके लिए पुदीने की पत्तियों को मिक्सर में पीस लें। अब इसका पेस्ट बनाकर उसे चेहरे पर रात को सोने से पहले लगा लें या इसे छानकर जूस निकालकर भी चेहरे पर लगाया जा सकता है। इसको रात भर लगा रहने दें और सुबह चेहरे को धो लें। ऐसा हफ्ते में एक बार करने से पिंपल खत्म हो जाते हैं।

बर्फ के टुकड़े से कर सकते हैं पिंपल्स का इलाज:-

इसके लिए बर्फ के टुकड़े को कॉटन में लपेटकर चेहरे पर धीरे-धीरे मालिश करना है। ऐसा तीन चार दिन तक दिन भर में 2 बार करने से पिंपल ठीक हो जाते हैं।

पिंपल से छुटकारा पाने का घरेलू उपाय है हल्दी:-

इस नुस्खे के लिए एक चम्मच हल्दी पाउडर को पानी में मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को पिंपल्स पर लगाएं। इसे कुछ मिनट के लिए लगा रहने दें और फिर ठंडे पानी से चेहरा धो लें। ऐसा एक सप्ताह तक करने से पिंपल खत्म हो जाते है।

मुंहासे हटाने का उपाय करें टूथपेस्ट से:-

इस नुस्खे के लिए रात को सोने से पहले पिंपल पर टूथपेस्ट लगा दे फिर सुबह ठंडे पानी से इसे धो दें। पिंपल्स पर इसका असर काफी होता है और ऐसा कई बार करते रहने से पिंपल खत्म हो जाते हैं और ध्यान रखें कि पिंपल्स पर हमेशा सफेद टूथपेस्ट ही लगाना चाहिए।

मुहांसे से छुटकारा दिलाता है लहसुन:-

इसके लिए लहसुन की दो कली और एक लोंग को पीस कर उसका पेस्ट बना लें।इस पेस्ट को सिर्फ पिंपल्स पर ही लगाएं।ऐसा कई बार करने से पिंपल्स खत्म हो जाते हैं।

 मुंहासे हटाने का घरेलू उपाय है नींबू:-

इस नुस्खे के लिए 2 मध्यम आकार के नींबू लेकर उन का जूस निकाल ले। नींबू के रस को कॉटन में भिगो लें और चेहरे पर लगाकर सूखने के लिए छोड़ दें। जब सूख जाए तो इसे ठंडे पानी से धो लें। दिन में दो बार इसे तीन-चार दिनों तक लगाएं।ऐसा कई दिनों तक करते रहे, इस तरह से पिंपल दूर हो जाते हैं।

 नीम की पत्ती से करें मुहांसों का उपचार:-

इस नुस्खे में नीम की पत्तियां लेना है और उन्हें अच्छी तरह धो कर उसका पेस्ट बना लेना है। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाकर आधे घंटे के लिए छोड़ दें और आधे घंटे बाद चेहरे को धो लें।इस तरह पिंपल खत्म हो जाते हैं।

Note:- कभी कच्चे मुंहासे को नोचना नहीं चाहिए वरना यह अपना स्थाई दाग छोड़ देते हैं।

तो दोस्तों हमने आपको पिंपल्स से कैसे बचें और इससे बचने के लिए किए जाने वाले घरेलू उपायों के बारे में बताया। मुझे आशा है कि आपको पोस्ट पसंद आई होगी यदि आपको इन उपायों से मदद मिली तो आप अपनी प्रतिक्रिया कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं।

धन्यवाद।।।।।

गुर्दे की पथरी क्या है? लक्षण, कारण व पथरी को जड़ से खत्म करने के घरेलू उपाय
डायबिटीज से बचने के उपाय। टाइप -1, टाइप-2 मधुमेह के लक्षण, कारण व छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे
वजन घटाने के घरेलू नुस्खे- मोटापा कम करने के रामबाण उपाय-weight loss tips
ब्लडप्रेशर से कैसे बचें।- हाई ब्लड प्रेशर को जड़ से खत्म कर देंगे यह उपाय
गिलोय के औषधीय फायदे- लाभ जानकर हो जाएंगे हैरान।






टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

गिलोय के औषधीय फायदे- लाभ जानकर हो जाएंगे हैरान।

आजकल अधिकतर सुनने में आ रहा है कि बुखार से छुटकारा पाने के लिए गिलोय का काठा पिलाएँ। आखिर गिलोय कौन सा पौधा है, कहाँँ पाया जाता है, किन किन रोगों में कारगर होता है इसका वर्णन इस लेख के माध्यम से करने का प्रयास किया जा रहा है
गिलोय के अन्य नाम:-                                  गिलोय को गुडूच, अमृतगिलोय , गुडुची आदि नामों से भी जाना जाता है इसे मराठी में गलों कहते हैं। इसका वानस्पतिक नाम टीनोस्पोरा कोर्डीफोलिया तथा यह मनीस्प्रमेसी कुल के अंतर्गत आते है। गिलोय को दिव्य औषधि माना जाता है। गिलोय का प्राकृतिक आवास:-                                                  गिलोय की पत्तियां हृदय के आकार की होती है तथा देखने में पान के पत्ते की तरह लगती है। इसका पौधा लता के रूप में होता है जो कि भारत, म्यामार व श्रीलंका में भरपूर मात्रा में जंगली रूप में उगता हुआ देखा जा सकता है। इसकी पत्तियां 10 से 20 सेंटीमीटर लंबी तथा 8 से 15 सेंटीमीटर चौड़ी होती है। गिलोय की लताएं जंगलों पहाड़ों खेतों की मेड़ों चट्टानों आदि स्थानों पर पाई जाती है। इसकी लताएं वृद्धि के लिए दूसरे वृक्षों को अपना आधार बनाती है।ये …

Hair fall tips: बालों का झड़ना कैसे रोकें। hair fall causes, symptoms and hair fall home remedies

दोस्तों ज्यादातर लोगों में बालों का झड़ना, डैंड्रफ, बालों का सूखापन, पतलापन और वक्त से पहले बालों का सफेद होना बहुत ही ज्यादा आम समस्या है क्योंकि जब भी बालों से जुड़ी हुई कोई भी छोटी बड़ी समस्या होती है तो लोग अक्सर ऐसी चीजों का इस्तेमाल करते हैं जिसे अपने बालों में लगाकर अपनी इस प्रॉब्लम से छुटकारा पा जाएं। लेकिन ऐसा सोचना बिल्कुल गलत है क्योंकि बालों का झड़ना या गिरना एक ऐसी प्रॉब्लम है जिसे बालों में लगाने वाली चीजों का यूज करके सही नहीं किया जा सकता बल्कि इसके साथ-साथ खानपान और अपनी डेली लाइफ में की जाने वाली आदतों में सुधार करना बहुत जरूरी होता है। हम कई ऐसी गलतियां करते हैं जिसके कारण हमारे बाल झड़ने की समस्या उत्पन्न हो जाती है तो आइए जानते हैं वह कौन सी गलतियां या कारण है जिनसे हेयर फॉल होता है-

हेयर फॉल के कारण: hair fall reasons in hindi:- (1) सुबह उठकर नहाना:- सुबह उठकर नहाने में सबसे ज्यादा उपयोग पानी का किया जाता है। यहां समस्या यह है कि जितना ख्याल हम अपने पीने का पानी का रखते हैं उतना ख्याल हम अपने नहाने के पानी का कभी नहीं रखते। यदि हमारे नहाने का पानी ही ठीक ना हो तो…

डायबिटीज से बचने के उपाय। टाइप -1, टाइप-2 मधुमेह के लक्षण, कारण व छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे

वजन घटाने के घरेलू नुस्खे। 15 दिन में पाएं मनचाहा वजनडायबिटीज के मरीज लगातार बढ़ते जा रहे हैं। प्रत्येक दिन इसके मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। कुछ ताजा आंकड़ों के अनुसार जिस तरह डायबिटीज के मरीजों की संख्या बढ़ रही है उससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि 2025 में इसके मरीजों की संख्या लगभग 13 करोड़ के आसपास हो जाएगी। आखिर क्या वजह है कि डायबिटीज से लोग प्रभावित हो रहे हैं? डायबिटीज क्या है? डायबिटीज के लक्षण क्या है? डायबिटीज से कैसे बचा जा सकता है?डायबिटीज से बचने के घरेलू उपाय ? इन सब के बारेे में हम अपने इस लेख में चर्चा करेंगे तो आइए शुरू करते हैं -

क्या है डायबिटीज:-                                 डायबिटीज एक अवस्था है जिसमें इंसुलिन, जो हमारे शरीर में शुगर कंट्रोल करता है। यदि यह इंसुलिन हमारे शरीर में 50% से कम बनता है तो व्यक्ति की शुगर सामान्य से ऊपर जाने लगती है और इसे ही डायबिटीज कहते हैं। डॉक्टर इसे डायबिटीज मेलाटाइज कहते हैं। इसे मधुमेह और शुगर के नाम से भी जाना जाता है। यह एक ऐसी बीमारी है जो एक बार होने पर जीवन भर साथ निभाती है लेकिन अगर मधुमेह के शुरुआती लक्षणों की …