सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

Health remedies लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

वजन घटाने के घरेलू नुस्खे- मोटापा कम करने के रामबाण उपाय-weight loss tips

आजकल लोग मोटापे से बहुत परेशान है। लोग अपने शरीर के वजन को संतुलित बनाए रखने के लिए क्या-क्या नहीं करते हैं फिर भी उन्हें मोटापे जैसी समस्या परेशान करती रहती है। यदि आप भी अपने मोटापे को कम करके संतुलित वजन चाहते हैं तो आपको प्रकृति द्वारा प्रदत्त उपचारों को प्रयोग में लाना चाहिए आपको अपने आहार तथा उत्पादों में वह साधन प्रयोग करने चाहिए जो आपके मोटापे को कम करते हैं। तो चलिए आज हम इस लेख के माध्यम से वजन घटाने के घरेलू उपायों (home remedies for weight loss) के बारे में चर्चा करते हैं।
वजन घटाने के घरेलू उपाय- अश्वगंधा की पत्तियों की गोली खाना:
मोटापा दूर करने मे अश्वगंधा काफी कारगर होता हैै। इसके पत्तों का यह नुस्खा रोज अपनाएं, खाने सेेेे कुछ देर पहले अश्वगंधा के पत्ते की गोली बनाएं और इस गोली को निगल ले। यह घर पर मोटापा घटाने के सरल उपायों में से एक है।
मोटापा कम करने का सरल उपाय- शहद के साथ नींबू पीना:
नींबू और शहद हमें आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं, जिसके द्वारा हम अपने वजन को आसानी से कय कर सकते हैं। इसके लिएरोज सुबह नींबूू और शहद को गुनगुने पानी मैं डालकर पिए। इससे शरीर का अतिरिक्त फ…

ब्लडप्रेशर से कैसे बचें।- हाई ब्लड प्रेशर को जड़ से खत्म कर देंगे यह उपाय

ब्लडप्रेशर, बहुत ही जाना-माना नाम, लगभग हर आदमी इससे परिचित होगा। यह ब्लडप्रेशर कम हो जाए तो निम्नरक्तचाप की समस्या और अधिक हो जाए तो उच्चरक्तचाप की समस्या। आमतौर पर ब्लडप्रेशर की समस्या उम्र बढ़ने पर होती है। हम लोग मानते हैं कि ब्लड प्रेशर की बीमारी वृद्धों की बीमारी है लेकिन अब 30 साल के युवक भी इस बीपी की समस्या से ग्रसित होते हैं सामान्य तौर पर 30% भारतीय बीपी की समस्या से जूझ रहे हैं। इसीलिए डब्ल्यूएचओ ने इसे ग्लोबल एपिडेमिक घोषित किया है। तो आइए जानते हैं आज के विषय हाई ब्लड प्रेशर के बारे में- क्या होता है ब्लडप्रेशर( रक्तचाप ):-                                                रक्तवाहिनियों में बहते रक्त द्वारा वाहिनियों की दीवारों पर डाले गए दबाव को रक्तचाप या ब्लडप्रेशर कहते हैं।शरीर का सामान्य ब्लडप्रेशर 140-159/90-95 होता है और इससे ज्यादा का प्रेशर हाई ब्लडप्रेशर माना जाता है।यदि ब्लडप्रेशर 85 से ऊपर जा रहा है तो यह चेतावनी का संकेत माना जाता है। युवकों मे ब्लडप्रेशर की सीमा 120/80 तक होती है। इसमें 120 सिस्टोलिक ब्लडप्रेशर है और 80 डायस्टोलिक ब्लडप्रेशर है।
हाई ब्लडप्रेशर…